हिंदी व्याकरण

सभी Competitive Exam के लिए Android App

किसी शब्द का विपरीत या उल्टा अर्थ देने वाले शब्दों को विलोम कहते है। जैसे–  सत्य–असत्य , ज्ञान – अज्ञान , नवीन –प्राचीन आदि। अत: विलोम का अर्थ है – उल्टा या विरोधी अर्थ देने वाल़ा । एक़ – दूसरे के विपरीत या उल्टा अर्थ देने वाले शब्द विलोम कहलाते है । कुछ विलोम शब्दों के उदाहरण नीचे दिए जा रहे है –

शब्द ………विलोम
रात – दिन
अमृत – विष
अथ – इति
अन्धकार – प्रकाश
अल्पायु –दीर्घायु
इच्छा –अनिच्छ।
उत्कर्ष – अपकर्ष
अनुराग –विराग
आदि – अंत
आगामी – गत
उत्थान – पतन
आग्रह – दुराग्रह
एकता – अनेकता
अनुज – अग्रज
आकर्षण – विकर्षण
उद्यमी – आलसी
अधिक – न्यून
आदान – प्रदान
उर्वर – ऊसर
एक – अनेक
आलस्य – स्फूर्ति
अर्थ – अनर्थ
उधार – नगद
उपस्थित – अनुपस्थित
अतिवृष्टि – अनावृष्टि
उत्कृष्ट – निकृष्ट
उत्तम – अधम
आदर्श – यथार्थ
आय – व्यय
स्वाधीन – पराधीन
आहार – निराहार
दाता – याचक
खेद – प्रसन्नता
गुप्त – प्रकट
प्रत्यक्ष – परोक्ष
घृणा – प्रेम
सजीव – निर्जीव
सुगंध – दुर्गन्ध
मौखिक – लिखित
संक्षेप – विस्तार
घात – प्रतिघात
निंदा – स्तुति
मितव्यय – अपव्यय
सरस – नीरस
सौभाग्य – दुर्भाग्य
मोक्ष – बंधन
कृतज्ञ – कृतघ्न
क्रय – विक्रय
दुर्लभ – सुलभ
निरक्षर – साक्षर
नूतन – पुरातन
बंधन – मुक्ति
ठोस – तरल
यश – अपयश
सगुण – निर्गुण
मूक – वाचाल
रुग्ण – स्वस्थ
रक्षक – भक्षक
वरदान – अभिशाप
शुष्क – आर्द्र
हर्ष – शोक
क्षणिक – शाश्वत
विधि – निषेध
विधवा – सधवा
शयन – जागरण
शीत – उष्ण
सक्रिय – निष्क्रय
सफल – असफल
सज्जन – दुर्जन
शुभ – अशुभ
संतोष – असंतोष
आतुर – शांत
आगामी  – विगत
आरोह – अवरोह
आचार – अनाचार
आदत्त – प्रदत्त
आदर – अनादर
आदान – प्रदान
उचित – अनुचित
आरम्भ – अंत
आह्वान – विसर्जन
आवृत – अनावृत
आकर्ष – विकर्ष
आकर्षण – विकर्षण
आद्र – शुष्क
आच्छादित – अनाछ्दित
आहार – अनाहार
आशा – निराशा
आधुनिक – प्राचीन
आशीर्वाद – अभिशाप
आसक्त – अनाशक्त
आदर्श – यथार्थ
आगमन – गमन
आध्यात्मिक – भौतिक
आस्था – अनास्था
इच्छा – अनिच्छा
इहलोक – परलोक
ईश्वर – अनीश्वर
ईर्ष्या – प्रेम
उत्कर्ष – अपकर्ष
उषा – संध्या
उग्र – सौम्य
उदार – अनुदार
उचित – अनुचित
उपकार – अपकार
उत्थान – पतन
उधार – नगद
उन्नति – अवनति
उपयुक्त –  अनुपयुक्त
उपाय – निरुपाय
एकांगी – सर्वांगीण
ओखली – मूसल
ओछा – गंभीर
ओज – ओजहीन
ओजस्विता – ओजहीनता
ओजस्वी – ओजहीन
ओट – प्रकट
ओढ़ना – बिछाना
ओतप्रोत – विलग
औगत – सुगत
औद्योगिक – अनौद्योगिक
औपचारिक – औपचारिक
औपचारिकता – अनौपचारिकता
औघर – सुघर
औंधा – सीधा
औंधाना – सीधा करना
औचक – अक्सर
औचित्य – अनुचित्य
औचक – नियमित
औरत – मर्द
औलाद – वालिद
औवल – आखिर
औहाती – विधवा
कनिष्ठ – ज्येष्ठ
कृष – स्थूल
कृष्ण – शुक्ल
गुप्त – प्रकट
ग्रामीण – शहरी
घात – प्रतिघात
छली – निश्चल
छूत – अछूत
जल – थल
जन्म – मृत्यु
जंगली – पालतू
दयालु – निर्दयी
धीर – अधीर
नख – शिख
निरक्षर – साक्षर
निंदा – प्रशंसा
पक्ष – विपक्ष
पूर्ण – अपूर्ण
परकीया – स्वकीया
बंधन – मुक्ति
भद्र – अभद्र
भाव – अभाव
मौखिक – लिखित
राग – विराग
विधवा – सधवा
शयन – जागरण
शीत – उष्ण
घात – प्रतिघात
घृणा – प्रेम
चल – अचल
जटिल – सरल
ठोस – तरल
दाता – याचक
निर्मल – मलिन
नस्वर  अनश्वर
प्रभु – दास
बाढ़ – सूखा
मानव – दानव
मिलन – विछोह
मूक – वाचाल
रहित – सहित
रात्री – दिवस
लोभ – संतोष
विपन्न – संपन्न
विशुद्ध – दूषित
विरोध – समर्थन
शकुन – अपशकुन
सामिष – निरामिष
सूक्ष्म – स्थूल
हास्य – रुदन
तरुण – वृद्ध
दुर्लभ – सुलभ
पंडित – मूर्ख
पतिव्रता – कुलटा
प्रत्यक्ष – परोक्ष
भूत – भविष्य
मनुष्यता – पशुता
मिथ्या –  सत्य
मोक्ष – बंधन
योगी – भोगी
सजीव – निर्जीव
अग्नि – जल
अनाथ – सनाथ
अर्पण – ग्रहण
अथ – इति
अस्त – उदय
अगम – सुगम
अपेक्षा – उपेक्षा
अकाल – सुकाल
आयात – निर्यात
असली – नकली
अज्ञ – विज्ञ
अमर – मर्त्य
अधम – उत्तम
आतुर – शांत
आगामी – विगत
आरोह – अवरोह
आचार – अनाचार
आश्रित – अनाश्रित
आदत्त – प्रदत्त
आदर – अनादर
आदान – प्रदान
उचित – अनुचित
आरंभ – अंत
आह्वान – विसर्जन
आवृत – अनावृत
आकर्ष – विकर्ष
आकर्षण – विकर्षण
आद्र – शुष्क
आच्छादित – अनाच्छादित
आहार – अनाहार
आशा – निराशा
आधुनिक – प्राचीन
आशीर्वाद – अभिशाप
आसक्त – अनाशक्त
आदर्श – यथार्थ
आगमन – गमन
आध्यात्मिक – भौतिक
आगामी – विगत
आस्था – अनास्था
इच्छा – अनिच्छा
इहलोक – परलोक
ईर्ष्या – प्रेम
उत्कर्ष – अपकर्ष
उषा – सौम्य
उदार – अनुदार
उचित – अनुचित
उपकार – अपकार
उत्थान – पतन
उधार – नगद
उन्नति – अवनति
उत्तीर्ण – अनुतीर्ण
उपयुक्त – अनुपयुक्त
उपाय – निरुपाय
उद्यमी – आलसी
ऋजु – कुटिल
ऋणी – उऋण
एकांगी – सर्वागीण
ऐश्वर्य – दारिद्य
कंकाल – शरीर
कंगला – खुशहाल
कंजूस – दानी
कंटक – पुष्प
कंठस्थ – विस्मरण
कंपन – स्थिर
कई – एक
कगार – मँझधार
कटरा – कटरी
कटुता – मधुरता
कटुक्ति – सूक्ति
कट्टर – उदार
कठिन – सरल
कठोर – कोमल
कड़वा – मीठा
कथन – चुप्पी
कथ्य – अकथ्य
कद्रदान – नाकद्र
कनिष्ठ – वरिष्ठ
कपट – निष्कपट
कपाल – पद
कड़ा – मुलायम
कड़ाह – कड़ाही
कम – ज्यादा
कमखर्च – खर्चीला
कमीना – भला
करतल – पदतल
करार – बेकरार
कपूत – सपूत
कबूलना – नकारना
कर्ज़दार – महाजन
कर्ण कटु – कर्ण प्रिय
कर्मशाला – विश्रामशाला
कर्मशील – कर्महीन
कलंक – निष्कलंक
कलकल – शांत
करीना – बेढंग
करुण – निष्ठुर
कनिष्ठ – ज्येष्ठ
कृश – स्थूल
कृष्ण – शुक्ल
गुप्त – प्रकट
ग्रामीण – शहरी
ग्राम्य – शिष्ट
गजब – सामान्य
गठित – अगठित
गठियाना – खोलना
गठीला – ढीला
गड़ना – निकलना
गड़बड़ – सही
गड्मड – सिलसिलेवार
गंधाहारक – गंधदायक
गंधीला – सुगन्धित
गंभीर – सहज
गँवई – शहरी
गँवाना – पाना
गँवार – शहरी ,होशियार
गणतंत्र – राजतंत्र
गणनीय – अगणित
गण्य – नगण्य
गत – आगत
गति – अगति
गतिमान – स्थिर
गतिरोध – निर्विरोध
ग़दर – शांति
घंटा – घंटी
घंटा – पल
घटती – बढती
घटाना – बढ़ाना
घटाव – जोड़
घटित – अघटित
घनिष्ठ – बहिरंग
घनेरा – नगण्य
घमंडी – विनयी
घमासान – सामान्य
घाटी – पर्वत
घायल – दुरुस्त
घात – प्रतिघात
घमंड – विनय
घोषित – अघोषित
यश – अपयश
योगी – भोगी
रचना – विनाश
रत – विरत
राजतंत्र – प्रजातंत्र
रिक्त – पूर्ण
रंगीन – रंगहीन
लोभी – संतोषी
लेन – देन
लौह – स्वर्ण
वन – मरू
विधि – निषेध
विरह – मिलन
विशालकाय – लघुकाय
विश्वास – संदेह
शकुन – अपशकुन
शयन – जागरण
शासक – शासित
शुचि – अशुचि
शोषण – पोषण
समास – व्यास
सम्पद – विपद
सरस – नीरस
स्थावर – जंगम
स्वकीया – परकीय
सांगत – असंगत
संत – असंत
संश्लिष्ट – विश्लिष्ट
वृष्टि – अनाविष्टि
विवाद – निर्णय
विशिष्ट – साधारण
विस्तार – संक्षेप
श्वेत – श्याम
सदाशय – दुराशय
सपूत – कपूत
समाज – व्यक्ति
ससीम – असीम
संकीर्ण  – उदार
सूक्षम – स्थूल
हास्य – रुदन
क्षम – अक्षम
क्षर – अक्षर
सुगम – दुर्गम
सुभग – दुर्भग
क्षुद्र – महान
श्रव्य – दृश्य
लघु – गुरु
लौकिक – अलौकिक
लिप्त – अलिप्त
लुप्त – व्यक्त
वसंत – पतझड़
वरदान – अभिशाप
वाद – प्रतिवाद
वास्तविक – अवास्तविक
विकास – पतन
विवादास्पद – निर्विवाद
विधि – निषेध
विनय – अविनय
विशालकाय – लघुकाय
वृद्ध – बालक
विश्वास – अविश्वास
विशिष्ट – साधारण
विषम – सम
विधवा – सधवा
वीर – कायर
विवेक – अविवेक
विस्तार – संक्षेप
विश्लेषण – संश्लेषण
विजय – पराजय
विस्मरण – स्मरण
व्यावाहारिक – अव्यावाहारिक
विमुख – सन्मुख
वृहत – लघु
वीरान – आबाद
विस्तृत – संक्षिप्त
वैतनिक – अवैतनिक
व्यक्त – अव्यक्त
श्रांत – अश्रांत
व्यर्थ – सार्थक
व्यय – आय
व्यष्टि – समष्टि
विद्या – अविद्या
विरत – निरत
विष – अमृत
विशेष – सामान्य
विपत्ति – संपत्ति
विभक्त – अविभक्त
विदुषी – अज्ञानी
विद्वान – मूर्ख
विशुद्ध – अशुद्ध
वृद्धि – हास्र​_
वादी – प्रतिवादी
वैमनस्य – सौमनस्य
विपन्न – संपन्न
विरागी – रागी
विरोध – अवरोध
शक्तिशाली – शक्तिहीन
शिष्य – गुरु
शकुन – अपशकुन
शत्रु – मित्र
शीत – उष्ण
शुभ – तरल
श्वेत – श्याम
शिव – अशिव
शोषण – पोषण
श्रीगणेश – इतिश्री
श्रध्दा – अश्रधा
सभ्यता – बर्बरता
संगत – असंगत
संतुष्ट – असंतुष्ट
सम – विषम
सर्द – गर्म
सत – असत
सगुण – निर्गुण
सफल – विफल
सजीव – निर्जीव
सचेत – अचेत
सच्चरित – दुश्चरित
ससीम – असीम
सुकर – दुष्कर
सहयोगी – प्रतियोगी
सजल – निर्जल
सित – असित
संतोष – संतोष
स्वामी – सेवक
सुधा – गरल
सुरक्षित – असुरक्षित
सृष्टि – संहार
संकल्प – विकल्प
संधि – विग्रह
संयोग – वियोग
सामायिक – असामयिक
स्पृश्य – अस्पृश्य
स्पष्ट – अस्पष्ट
सुस्त – चुस्त
सम्बद्ध – असम्बद्ध
स्वधर्म – विधर्म
साहसी – कायर
सुविधा – असुविधा
स्वदेश – विदेश
स्वजाति – विजाती
सकाम – निष्काम
सुकर्म – कुकर्म
सुगम – दुर्गम
सुख – दुःख
सुन्दर – कुरूप
सबाध – निर्बाध
सरस – नीरस
संग्रह – त्याग
संगठन – विघटन
सरल – क्लिष्ट
सत्कार – तिरस्कार
साक्षर – निरक्षर
सापेक्ष – निरपेक्ष
सद्वृत – दुवृत
सदाचार – दुराचार
स्वीकृति – अस्वीकृति
सौन्दर्य – कुरूपता
स्वाधीन – पराधीन
स्वाभाविक – अस्वाभाविक
सखा – शत्रु
सवीकार – निर्विकार
संत – असंत
सुलभ – दुर्लभ
समस्या – समाधान
संकोच – असंकोच
अल्पायु – दीर्घायु
सुसंगति – कुसंगति
सात्विक – तामसिक
सदाचारी – कदाचारी
सुपरिणाम – दुष्परिणाम
सन्मार्ग – कुमार्ग
स्वच्छ – मलिन
सार्थक – निरर्थक
साकार – निराकार
सुगंध – दुर्गन्ध
सुपात्र – कुपात्र
सुपथ – कुपथ
सुशील – दुशील
सहज – कठिन
साहस – साहसहीन
स्थूल – सूक्ष्म
सुलझाव – उलझाव
संग – असंग
सुर – असुर
साधु- असाधु
सत्य – असत्य
सुमति – कुमति
सदय – निर्दय
संकीर्ण – उदार
सदाशय – दुराशय
सुकृति – दुष्कृति
सूना – भरा
सुदूर – अदूर
सभय – निर्भय
सुबह – शाम
सच – झूठ
सुबुद्धि – कुबुद्धि
हार – जीत
हर्ष – शोक
हिंसा – अहिंसा
हित – अहित
हस्व – दीर्घ
क्षर – अक्षर
क्षणिक – शास्वत
क्षम्य – अक्षम्य
क्षमा – दंड
लम्पट – सदाचारी
लम्ब – आधार
लम्बा – ठिगना
लम्बाई – चौड़ाई
लंबित – त्वरित
लम्बोदरा – छोटा
लकीर – बिंदु
लक्षण – कुलक्षण
लक्ष्णा – अभिधा
लक्षित – अलक्षित
लक्षितार्थ – अभिधार्थ
लक्ष्य – अलक्ष्य
लखपति – खाकपति
लगभग – पूरा
लगातार – रुक – रूककर
लगाना – हटाना
लगाव – हटाना
लगाव – दुराव
लडखडाना – संभालना
लड़ना – मिलना
लड़ाई – सुलह
लड़ाका – सद्भावी
लड़ाना – मिलाना
लतखोर – भला
लताड़ना – थपराना
लतिका – पौधा
लथपथ – सूखा
लताड़ – प्यार
लदाई – उतराई
लफंगा – भला शरीफ़
लहँगा – साड़ी
लबालब – खाली
लब्ध – अनुपलब्ध
लब्धप्रतिष्ठित – छिन्नप्रतिष्ठ
लग्न – कुलग्न
लघु – दीर्घ
लघुता – बड़प्पन
लघुशंका – दीर्घशंका
लचक – कठोरता
लचीला – कठोर
लचीलापन – कड़ापन
लजीला – निर्लज्ज
लज्जित – बेशर्म
लटकना – उठना
लटपट – सही
लड़की – लड़का​_
लम्हा – घंटा
लय – बेलय
लयात्मक – अलायात्मक
लरजना – थिरना
ललकना – विलगना
ललकार – पुकार
ललकारना – पुकारना
ललचना – त्यागना
ललाई – सफ़ेदी
ललित – कुरूप
लवण – शर्करा
लवलीन – अमग्न
लहलहाना – मुरझाना
लहू – पसीना
चिर – अचिर
चिरंतर – नश्वर
चोर – साधू
छल – निश्छल
छांह – धूप
जन्म – मरण
जय – पराजय
ज्येष्ठ – कनिष्ठ
ज्योति – तम
जड़ – चेतन
जागरण – निद्रा
जाग्रत – सुप्त
ज्योतिर्मय – तमोमय
जागृति – सुषुप्ति
जेय – अजेय
जल – स्थल
जवानी – बुढ़ापा
जीवन – मरण
जीवित – मृत
जोड़ – घटाव
जंगम – स्थावर
जाति – विजाति
ज्वार – भाटा
जटिल – सरल
झोपडी – महल
तम – ज्योति
तिमिर – प्रकाश
तीव्र – मंद
तुकांत – अतुकांत
तुच्छ – महान
नख – शिख

Leave a comment

Your email address will not be published.